अमित शाह की चुनौती पर उत्तर प्रदेश में सियासी उबाल

- Advertisement -

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) पर बहस करने की चुनौती को यूपी के सियासी दलों ने अपने-अपने तरीके से स्वीकार किया है। समाजवादी पार्टी ने जहां सीएए के बजाये विकास पर बहस की चुनौती दी है। वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने उनसे किसी भी मंच पर बहस करने को कहा है। सबसे अलहदा चुनौती तो प्रियंका वाड्रा गांधी ने दी है। उन्होंने भाजपा के साथ ही सपा और बसपा को भी आड़े हाथों लेते हुए गृह मंत्री को निशाने पर लिया है।

विकास पर बहस करें -अखिलेश
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि वह बहस के लिए तैयार हैं। भाजपा विकास के मुद्दे पर बहस करे। पैसे लेकर धरना देने की बात गलत है। उन्होंने कहा है कि वह नरेश उत्तम को बहस के लिए भेज देंगे। वह बहुत बढ़िया बोल लेते हैं।

अखिलेश ने ये बातें मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा सीएए पर विपक्ष के नेताओं को खुले मंच पर बहस के जवाब में कही है। सपा अध्यक्ष ने बुधवार को जनेश्वर मिश्र की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। जनेश्वर मिश्र पार्क में सपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हर नागरिक सीएए का विरोध कर रहा और उन्हें खुशी है कि महिलाएं आगे आईं हैं। सवाल किया कि भारत की आत्मा खत्म करेंगे क्या?

अखिलेश ने कहा कि उत्तर प्रदेश और भारत की धरती पर जो भाषा राजनीति में इस्तेमाल हो रही है, ये राजनीति करने वालों की भाषा नहीं हो सकती। सीएए का विरोध वह अकेले नहीं कर रहे बल्कि हर वह व्यक्ति कर रहा है जो इसको समझ रहा है।

मायावती बोलीं बसपा किसी भी मंच पर बहस के लिए तैयार
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा सीएए पर बहस की चुनौती को बसपा अध्यक्ष मायावती ने भी स्वीकार किया है। उन्होंने ट्वीट किया है कि अति विवादित सीएए, एनसीआर और एनआरपी के खिलाफ पूरे देश में युवाओं व महिलाओं द्वारा संगठित होकर संघर्ष व आंदोलन करने से केंद्र सरकार परेशान है। लखनऊ की रैली में विपक्ष को इस मुद्दे पर बहस करने की चुनौती पर बसपा किसी भी मंच पर और कहीं भी स्वीकार करने को तैयार है।

प्रियंका ने साधा सपा-बसपा पर निशाना
प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर अलग अंदाज़ में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजपार्टी पर हमला बोला। प्रियंका ने ट्वीट एक गाने से शुरू करते हुए कहा-‘ अजीब दास्तां है यह कहां शुरू कहां खत्म…। गृह मंत्री जी उत्तर प्रदेश में उन्हें चुनौती दे रहे हैं जो उनके खिलाफ लड़ने के लिए घर से बाहर तक नहीं निकले। उनका इशारा अखिलेश यादव की ओर था। उन्होंने आगे लिखा -जिन्हें गृह मंत्री को चुनौती देनी चाहिए…वे दूसरे प्रदेशों की समस्याओं की बातें कर रही हैं। उत्तर प्रदेश की जागरूक जनता सब समझती है। दूसरे प्रदेशों से जुड़ी बात कह कर प्रियंका ने बसपा प्रमुख मायावती को निशाने पर लिया है। दरअसल, मायावती अक्सर अपने ट्वीट में राजस्थाव व मध्य प्रदेश की समस्याएं उठाती रहती हैं, जहां कांग्रेस की सरकारें हैं।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here