भारत के 4 मोस्ट वॉन्टेड आतंकी, जिनके सिर है कई बेगुनाहों का खून

- Advertisement -

वर्ष 2019 में भी भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को देश के मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की तलाश रही. इसी साल जब संसद में गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून यानी UAPA की पहली लिस्ट जारी की गई तो उसमें देश के चार मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों के नाम दर्ज थे. ये वो आतंकी हैं, जिन्होंने हिंदुस्तान को सबसे ज़्यादा खून के आंसू रुलाए हैं. जिनके हाथ संसद हमले से लेकर पुलवामा हमले तक और उरी से लेकर मुंबई तक सैकड़ों बेगुनाहों के खून से सने हैं. ये वो चार दरिंदे हैं, जो ना सिर्फ आतंक बोते हैं बल्कि आतंक काटते भी हैं. इन चारों मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों के नाम रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किए गए हैं.

ये चार आतंकी हैं- मसूद अज़हर, हाफिज़ सईद, जकी उर रहमान लखवी और भारत का मोस्ट वॉन्टेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम. इन चारों के कारनामे लहू के रंग से लिखे गए हैं. इन्हें दुनियाभर के साथ-साथ भारत ने भी आतंकी का खिताब दिया है. हालांकि इनके लिए तो ये फख्र की बात है क्योंकि आतंक के इनके बायोडाटा में एक खिताब और जुड़ गया है. तो आइये आपको बताते हैं इस साल भी भारत के मोस्ट वॉन्टेड रहे इन आतंकियों की काली करतूतें.

आतंकी मौलाना मसूद अज़हर

सबसे पहला बायोडाटा है मसूद अज़हर का. इसका पता बहावलपुर और कराची है. इससे संपर्क करने के लिए आपको आईएसआई यानी पाकिस्तानी सेना से बात करनी पड़ेगी और वहां मदद ना मिले तो आप इमरान खान से सीधे बात कर सकते हैं. सबसे पहले इसके अनुभवों की बात कर लेते हैं. आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया के तौर पर इसने अफगानिस्तान में अमेरिका और नॉटो फोर्स के खिलाफ जंग लड़ी थी.

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here