नवग्रहो मे शनि का विशेष स्थान है

- Advertisement -

नवग्रहों में शनि का विशेष स्थान है। जब कुंडली के हिसाब से शनि की दशा, महादशा, अंतर्दशा, साढ़े साती और ढैया आती है तो व्यक्ति को उसके कर्मों के हिसाब से फल मिलता है। इस दौरान यदि जातक की कुंडली में शनि की दशा सही नहीं है तो उसको जीवन में काफी कष्टों का सामना करना पड़ता है, लेकिन जीवन के इन बे दौर से वह सीख लेकर अपनी जिंदगी को संवारने में लग जाता है। शनि मानव को सबक भी देता है और संभलने का मौका भी, जिससे वह आगे के अपने भविष्य को संवार सकता है।

इन राशियों पर रहेगा शनि की ढैया का असर

इस साल तुला राशि वाले व्यक्ति शनि की ढैया के प्रभाव में रहेंगे। तुला राशि वालों पर इस साल शनि का चौथा ढैया प्रारंभ हो जाएगा। इस वजह से तुला राशि वालों को शत्रुओं से परेशानी रहेगी और कोई पुराना रोग परेशान कर सकता है। इस साल इस राशि वालों का मानसिक तनाव बढ़ेगा। कार्यस्थल पर चिंता में रहेंगे और सहयोगियों के साथ विवाद होने की संभावना है। उच्चाधिकारियों के साथ संबंध बिगड़ सकते हैं और जो व्यक्ति इस साल रोजगार की तलाश में हैं उनको नौकरी पाने के लिए कड़ा संघर्ष करना पड़ेगा। विदेश जाकर नौकरी करना वाले लोगों को इस ढैया का फायदा मिल सकता है और विदेश में उनको नौकरी मिलने के आसार हैं।

Saturn Transit 2020 On Capricorn : मकर राशि में शनि के आने का ढाई साल तक आपकी राशि पर रहेगा यह असर
Saturn Transit 2020 On Capricorn : मकर राशि में शनि के आने का ढाई साल तक आपकी राशि पर रहेगा यह असर
यह भी पढ़ें

कारोबार में शनि का यह ढैया चिंताओं को बढ़ाने वाला है। जल्दीबाजी में लिया गया निर्णय परेशानी में डाल सकता है। व्यापार विस्तार की योजना को फिलहाल टालना बेहतर रहेगा। इसमें मुनाफे की बजाय नुकसान होने की संभावना है। उधार दिए गए धन के वापसी में दिक्क्त आ सकती है, लेकिन साझेदारी में किए गए कारोबार में इस समय फायदा हो सकता है।

मिथुन राशि वालों पर रहेगा ऐसा असर

Horoscope 24 January 2020: अचानक धन लाभ हो सकता है, दिनभर बिजी रहेंगे
Horoscope 24 January 2020: अचानक धन लाभ हो सकता है, दिनभर बिजी रहेंगे
यह भी पढ़ें

मिथुन राशि वालों के लिए इस साल शनि आठवें भाव में गोचर कर रहा है। इसको अष्टम ढैया या मृत्यु भाव भी कहा जाता है। शनि के इस ढैया की वजह से आपका वाणी पर संयम नहीं रहेगा। बनते हुए काम बिगड़ जाएंगे और छोटे से काम बड़ी मेहनत के बाद सफल होंगे। किसी भी कार्य को करने से पहले विचार करना जरूरी है। यदि कुंडली में शनि शुभ है तो उसके अच्छे फल भी मिल सकते हैं। इस समय जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा विदेश यात्रा के योग बन सकते हैं। 30 मार्च के बाद पिता के स्वास्थ्य में दिक्कत हो सकती है और धन की स्थिति में सुधार होने की संभावना है। पुराने मित्रों से मुलाकात होगी और उनकी मदद से कोई रुका हुआ काम बनेगा। खर्चों में बढ़ोतरी की संभावना है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here