दिल्ली में आम आदमी पार्टी द्वारा जारी अरविंद केजरीवाल का गारंटी कार्ड को मनोज तिवारी ने बताया झूठा

- Advertisement -

दस कामों की गारंटी देने से पहले जनता को 70 वादों का हिसाब दें
आयुष्मान भारत के लाभ से दिल्ली की जनता को अब तक वंचित क्यों रखा
आम आदमी पार्टी चुनाव में अपनी हार को सामने देखकर डर रही है
नई दिल्ली: दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने रविवार को आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल द्वारा जारी किए जाने वाले गारंटी कार्ड को अगले पांच साल के लिए दिल्ली की जनता को बोले जाने वाले दस झूठ बताते हुए कहा कि दिल्ली की जनता अपने मुख्यमंत्री से जानना चाहती है कि वह दस कामों की गारंटी देने से पहले उन 70 वादों का हिसाब दे जो उन्होंने वर्ष 2015 के चुनाव में दिल्ली की जनता से किए थे. वादे करना और उन्हें पूरा करने में अंतर होता है. दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दिल्ली की जनता से 70 वादे तो किए लेकिन जब पूरा करने की बारी आई तो और नए वादे करके जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं.
उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की कथनी और करनी में कितना बड़ा फर्क है वो इस बात से समझा जा सकता है कि वो घोषणा पत्र जारी करने से पहले उन कामों की गारंटी दे रही है जो उन्होंने अपने पांच साल के कार्यकाल में नहीं किए. इससे स्पष्ट होता है कि आम आदमी पार्टी विधानसभा चुनाव में अपनी हार को सामने देखकर डर रही है.

तिवारी ने कहा कि केजरीवाल के गारंटी कार्ड में बिजली का मुद्दा सबसे पहले है और मुख्यमंत्री जनता को बताएं कि 200 यूनिट मुफ्त बिजली वाली बात कहने वाले मुख्यमंत्री ने बिजली कम्पनियों को मार्च तक ही बिजली मुफ्त देने का आदेश क्यों दिया है? तारों के जंजाल को हटाने की गारंटी देने वाले केजरीवाल बताएं कि यह काम पांच साल में क्यों नहीं हुआ? यदि तारों का जंजाल समय रहते हटा दिया जाता तो दिल्ली में हो रही आग लगने की दुर्घटनाओं पर रोक लगाई जा सकती थी. पानी की गारंटी देने वाले जनता को बताएं कि वो दिल्ली में स्वच्छ पीने का पानी कितनी जगहों पर दे पाए हैं.

उन्होंने कहा कि शिक्षा को लेकर क्रांतिकारी परिवर्तन की बात करने वाले मुख्यमंत्री बताएं कि 500 नए स्कूल और 20 नए कॉलेज दिल्ली में कहां हैं? हर नागरिक को मुफ्त इलाज का दावा करने वाले पहले मोहल्ला क्लीनिक और फिर दिल्ली सरकार के अस्पतालों की हालत पांच साल में क्यों नहीं सुधार पाए. जनता को बताएं कि क्यों उन्होंने केंद्र सरकार की जनकल्याणकारी आयुष्मान भारत योजना के लाभ से दिल्ली की जनता को आज तक वंचित रखा हैं.

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here